बुधवार, 2 फ़रवरी 2011

यूँ ही बस बीत गए ’ब्याह’ के इतने बरस

                       "दुल्हनियां  तो बहुत सुन्दर है" यह सुनने का सिलसिला जो मंडप से शुरू हुआ था ,वह घर वापस बारात लौटने तक रास्ते भर चलता रहा था | रास्ते भर मै तुम्हे कनखियों से देखता और लोगों की बातों से मेल कराने की कोशिश करता कि उनकी बातों में सत्य का प्रतिशत कितना है ,पर चूँकि कार तुम्हारा  देवर  चला रहा था ,वह भी रियर व्यू मिरर में पूरी नज़र मुझी पर रखे था कि, मैं कितना संयम बरत रहा हूँ, सो अपने आंकलन में सफल नहीं हो पा रहा था | मुझे घूँघट की ओट से निकलती तुम्हारी नाक और उस पर झूलती नथ और हाथों की दसों उंगलियाँ आपस में उलझी हुई गोद पर रखी,  आज भी याद हैं | तुम्हारा सुबकना बार बार मुझे अपराध बोध सा करा रहा था कि, जैसे मैंने तुम्हे रुलाने का पाप किया हो, पर दूसरे ही पल किसी ज्ञानी की तरह ज्ञान प्राप्त होने लगता कि यह तो दुनिया का दस्तूर है ,हाँ मन ही मन यह जरूर कई बार प्रण कर रहा था की, कोशिश मेरी यही होगी कि ये आंसू तुम्हारे आखिरी आंसू हों |
                       घर पहुँचने के बाद सारे रीति -रिवाज़ संपन्न होते होते बहुत देर भी हो गई थी,सच कहे तो ऊब भी गए थे और थक भी | और फिर देर शाम मेरा प्रथम परिचय हुआ था तुम्हारे सौन्दर्य से | 
                         बहू  को ससुराल में कितना भी प्यार  मिले, पर उसे अपने माएके में मिले दुलार से सदा वह कम ही लगता है और इसी के साथ  शुरुआत होती है, माएका और ससुराल में मिलने वाले माहौल और कम्फर्ट के  नापतौल की |  मै तो उस समय बहुत असहज सा रहा हूंगा  क्योंकि अचानक तुमसे मिले सामीप्य और प्यार के लिबास में एकाधिकार की मादकता में चौबीसों घंटों डूबा ही  रहता था ,कुछ हद तक ठीक भी रहा होगा शायद | क्योंकि किसी को बुरा लगा हो ऐसा किसी ने एहसास भी नहीं कराया कभी | धीर धीरे समय बीतने लगा और अब तो खटर-पटर भी होनी  शुरू हो गई  थी, जो संकेत था सफल वैवाहिक जीवन की शुरुआत का |
                         इतने बरस हो गए ब्याह को ,पर आज तक जो भी खटर पटर हुई ,सदा दूसरों के व्यवहार को लेकर ही हुई |ना मुझे तुमसे कोई शिकायत ना तुम्हे मुझसे कोई शिकवा ,पर यह दूसरे ही हमेशा तुम्हारे लिए उत्प्रेरक का काम करते रहे |इसका कारण आज तक मै नहीं समझ पाया| खैर, पता नहीं हम लोगों ने कभी कौन सा पुण्य किया था, जो हम लोगों को इतने प्यारे प्यारे दो बच्चे ईश्वर ने नवाजे और उसके बाद तुम्हारी दुनिया तो बस उनके इर्द गिर्द कसती चली गई | एक इत्तिफाक और रहा कि , भले ही तमाम मसलों में हम लोग एकराय ना रहे हों या झगड़ भी गए हों पर बच्चों की परवरिश में जैसे हम तुम एक दूसरे का ही अक्स रहे हों ,और आज उसी का नतीजा है कि  दोनों बेटे देश के सर्वोच्च संस्थान में अध्धयन रत  हैं | ईश्वर की इससे बड़ी कृपा हम लोगों  पर और कुछ  नहीं हो सकती ,बस यही प्रार्थना है उस प्रभु से, बस ऐसे ही हमें संजोए रहें |
                           ब्याह की सालगिरह पर पीछे का सब कुछ याद सा आने लगता है ,कुछ रिश्ते हमसे छूट भी गए ,और कुछ रूठ भी गए, ना चाहते हुए | पर सबका अपना अपना नजरिया है, जिंदगी जीने का भी, और निभाने का भी |
                           लोगों को ताज्जुब होता ही कि यार तुम लोगों को इतने बरस हो गए ब्याह के, पर लगता नहीं ,इसका शायद एक ही कारण है कि हम लोग हमेशा दोस्त की ही तरह रहे ,ज्यादातर कोशिश समय साथ बिताने की ही रही ,आपसी रिश्ते को हर दूसरे रिश्ते से ज्यादा महत्त्व दिया ,चाहे वह कोई भी रहा हो|
                             पीछे मुड़कर देखने पर वो कठिन  रास्ते भी बहुत अच्छे लगते हैं ,कोई शिकवा नहीं जिंदगी से | तुम्हारा साथ क्या मिला, लगता है कि, मेरी झोली ही छोटी पड़ गई ,खुशियाँ समेटने में |
                             ०३ फरवरी १९८८ को मेरी जिंदगी में पहली बार कोई लड़की आई थी और वह तुम थीं |आज हमारे ब्याह को २३ बरस हो गए ,पर सच में लगता है जैसे अभी कल ही की  बात हो |
                                 

25 टिप्‍पणियां:

  1. बस इतना ही कहूँगा
    एक उम्र भी कम है , प्यार करने के लिए
    लोग कहाँ से वक़्त निकलते हैं नफरत के लिए
    प्रेरणादायी विचार ...आपका शुक्रिया

    उत्तर देंहटाएं
  2. आपको अग्रिम बधाई। 23 वर्ष में आपको कल की बात लग रही है, महानता और कैसे परिभाषित हो अब?

    उत्तर देंहटाएं
  3. :)यह मिठास जीवन भर बनी रहे..... हार्दिक शुभकामनायें

    उत्तर देंहटाएं
  4. यह है असली ब्लागिंग का टेक्स्चर ....परिणय वर्षगाँठ की बधायी -बस दो वर्ष बाद ही रजत परिणय वर्ष है -अग्रिम बधाईयाँ !

    उत्तर देंहटाएं
  5. विवाह की 23 वीं वर्षगांठ की बधाई और रजत जयंती वर्ष की अग्रिम शुभकामनाएं।

    उत्तर देंहटाएं
  6. ढेर सारी शुभकामनाये आप दोनों को ... दोनों सदा Q U की तरह साथ रहे .. वैसे ३१ जनवरी को मैंने भी शादी के कुछ साल पूरे किये हैं

    उत्तर देंहटाएं
  7. आपको दोनों को ही विवाह की 23 वीं वर्षगांठ की बहुत बहुत हार्दिक बधाइयाँ और शुभकामनाएं ! यह सफ़र युही चलता रहे ...

    उत्तर देंहटाएं
  8. विवाह की 23 वीं वर्षगांठ की हार्दिक बधाई और शुभकामनायें……………ये मिठास जीवन भर बनी रहे।
    वैसे इसी 15 को हम भी 23वीं वर्षगांठ मना रहे हैं।

    उत्तर देंहटाएं
  9. वर्ष बीत जाते हैं.... बस यादें रह जाती हैं उन सुनहरे पलों की॥

    उत्तर देंहटाएं
  10. इतनी शुभकामनाएं,इतने दोस्त। सच, मन मयूर हो गया । हम दोनों की ओर से आप सभी का बहुत बहुत शुक्रिया ।

    उत्तर देंहटाएं
  11. may god shower his blessings on u and bhabhi for many many many more years to come

    उत्तर देंहटाएं
  12. पढ़कर बहुत अच्छा लगा । आप दोनों कों ढेरों शुभकामनायें।

    उत्तर देंहटाएं
  13. प्रेरणादायी विचार .......बहुत बहुत हार्दिक बधाइयाँ और शुभकामनाएं !

    उत्तर देंहटाएं
  14. कुछ दिनों से बाहर होने के कारण ब्लॉग पर नहीं आ सका
    माफ़ी चाहता हूँ

    उत्तर देंहटाएं
  15. इतनी सुन्दर प्रस्तुति,वैजयंती माला में पिरोए,शब्दों में समेटी धैर्यवान पति ही दे सकता है।जीवन के अगणित सुख,दुःख को परास्त करते बीतता जाता है,दुःख-सुख का मिश्रण जीवन एक क्रीड़ा स्थल है। जीवन साथी का साथ,प्रेरणा देती रहती है। हमारी शुभ कामनाए,आप के जीवन में सुख,शांति समृद्धि सदैव बनाए रखे। विवाहित जीवन की सालग्रिह की हार्दिक बधाई।

    उत्तर देंहटाएं
  16. इतनी सुन्दर प्रस्तुति,वैजयंती माला में पिरोए,शब्दों में समेटी धैर्यवान पति ही दे सकता है।जीवन के अगणित सुख,दुःख को परास्त करते बीतता जाता है,दुःख-सुख का मिश्रण जीवन एक क्रीड़ा स्थल है। जीवन साथी का साथ,प्रेरणा देती रहती है। हमारी शुभ कामनाए,आप के जीवन में सुख,शांति समृद्धि सदैव बनाए रखे। विवाहित जीवन की सालग्रिह की हार्दिक बधाई।

    उत्तर देंहटाएं
  17. कित्ती अच्छी तरह से आपने अपने दिल के जज्बातों को शब्द दिए हैं भैया...| आप और भाभी को बहुत बहुत बधाई...|

    उत्तर देंहटाएं
  18. ये एहसास ही अहम् हैं बस ...... यूँ ही बने रहें सालों साल.

    उत्तर देंहटाएं
  19. सिलवर जुबली वाली कहाँ है? मेरा मतलब सिलवर जुबली वाली पोस्ट कहाँ है?

    बहुत बधाई इस शानदार सफ़र के लिये।

    उत्तर देंहटाएं
  20. सिलवर जुबली वाली कहाँ है? मेरा मतलब सिलवर जुबली वाली पोस्ट कहाँ है?

    बहुत बधाई इस शानदार सफ़र के लिये।

    उत्तर देंहटाएं
  21. बहुत सुन्दर संस्मरण...May you two always bask in the warmth and joy of togetherness...love and faith...
    God Bless You...:)

    उत्तर देंहटाएं