शुक्रवार, 20 जनवरी 2012

" क्यों लिखूँ कविता .....?"


कविता लिखना शायद ,
होता है कीमोथीरेपी जैसा,
दर्द और बहुत दर्द के बीच, 
झूलती ज़िन्दगी, 
पर हाँ ! उम्र मिल जाती है,
थोड़ी साँसों को और,
साथ ही साथ, 
उस "कैंसर" को भी ।
उनका मिलना,
न मिलना, बिछुड़ना,
रूठना, रुलाना,
कभी लबों पे तबस्सुम,
और कभी, 
डबडबाई आँखें,
जिनमे कोई भी,
डूबना चाहे,
ना-उम्मीद उम्मीदों की,
फिर अचानक,
खुशबू मुठ्ठी भर,
और धूप में,
उनका साया,
क्या करूं,
कितना याद करूं,
सब यादें उलझ, 
सी जाती हैं, 
आपस में,
रूह में उनका आना, 
फिर बिना आवाज, 
चले जाना,
सब सोचता हूँ, 
निचोड़ता हूँ, 
निथारता हूँ,
सीने में दर्द, 
बर्दाश्त करता हूँ, 
तब कविता, 
निकलती है, 
और खुद को, 
लिखती है, 
मेरे सफे पे,
बहुत तकलीफ, 
होती है, 
तब बनती है कविता,


"क्यों लिखूँ कविता !!"





16 टिप्‍पणियां:

  1. ओह ..तो फिर मैं अपना पिछला कमेन्ट वापस लेती हूँ :).

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. अरे नहीं ,आप लोगों के कमेंट्स तो पेन-किलर होते हैं |

      हटाएं
  2. और जब इतनी तकलीफ के बाद लिखी जाती है कविता तो अमर हो जाती है...इतनी निखर जाती है जैसे नयी -नयी कोपलें जो अभी फूटी हों...सुन्दर...

    उत्तर देंहटाएं
  3. आपकी किसी पोस्ट की चर्चा है नयी पुरानी हलचल पर कल शनिवार 21/1/2012 को। कृपया पधारें और अपने अनमोल विचार ज़रूर दें।

    उत्तर देंहटाएं
  4. गहरे भाव।
    कविताएं तो मन का आईना होती हैं।

    उत्तर देंहटाएं
  5. हम ग़मज़दा हैं लायें कहाँ से खुशी के गीत
    देंगे वही जो पायेंगे इस ज़िन्दगी से हम।

    उत्तर देंहटाएं
  6. जितनी तकलीफ के बाद कविता आती है, उतना ही सुकून देती है बाद में पढ़ने से..
    गहरा विश्लेषण..

    उत्तर देंहटाएं
  7. तकलीफ की बात ही न करे..हर बार प्रसव-वेदना..

    उत्तर देंहटाएं
  8. वाकई, कविता लिखने के लिए सिर्फ पास मे कलम होना ही काफी नहीं है, बहुत सुंदर।

    उत्तर देंहटाएं
  9. वाह बहुत खूब ...

    कविता यूँ ही नहीं बन जाती
    इस में मन के सभी भाव
    कुछ संवेदनाएं ,कुछ भावनाये
    कुछ तेरी ,कुछ मेरी बाते
    मिला करती हैं ....अनु

    उत्तर देंहटाएं
  10. माफ़ कीजिएगा आज यहाँ में आपकी बातों से सहमत नहीं क्यूंकि यह ज़रूरी नहीं कि कविता में यदि दर्द न हो,तो वो प्रभावशाली नहीं बन सकती या लिखी ही नहीं जा सकती कविता लिखने के लिए दर्द नहीं एहसासों कि जरूरत होती है...

    उत्तर देंहटाएं
  11. शब्दों की अनवरत और गहन अभिवयक्ति....

    उत्तर देंहटाएं