मंगलवार, 7 अप्रैल 2020

मौसम

बादलों की खुशमिजाजी
यूँ ही नही होती

बेमौसम बारिश
यूँ ही नही होती

जुल्फें उड़ी होंगी
आंखे मिची होंगी

हवाओं में खुशबू
यूँ ही नही होती

कहीं कोई इश्क
मुकम्मल हुआ है
बीती रात

इतनी मासूम सुबह
यूँ ही नही होती।

 #ऑसममौसम

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें