बुधवार, 31 अक्तूबर 2012

" इस बार करवा चौथ पे ....."


सुनो, उस दिन बिंदी वो वाली लगाना , गीली वाली , अरे, जिसमें खुशबू होती है | मैं हर बार नाम भूल जाता हूँ , पर तुम समझ तो जाती हो न | हाँ ! वो कुमकुम वाली , जो पतली तीली से लगाती हो न माथे पे , वही | अच्छा, मंदिर के लिए गेंदे के फूलों की लड़ी लाऊँगा तब बेले के फूल भी लेता आऊंगा तुम्हारे बालों के लिए | अच्छे लगते हैं |

"आपको तो पूजा / व्रत में आस्था है नहीं , फिर इस बार इतना क्यों याद रख रहे हैं ", पूछा निवेदिता ने | मैंने कहा ," मुझे वो सारे उपक्रम बहुत अच्छे लगते हैं जो तुम पूजा / व्रत की तैयारी में करती हो | पूरा घर सुगन्धित हो उठता है और पूजा के बाद मन भी |

रही बात 'करवा चौथ' के व्रत की , तो वह तुम करो ,न करो ज्यादा फरक नहीं पड़ता | व्रत तो तुमने उसी दिन रख लिया था ,जीवन भर के लिए , जब तुम अपना प्यार भरा मायका छोड़ , एक अनजान परिवार में कल्पनाओं का संसार लिए चली आई थीं | तुम्हारा व्रत तो मुझे रोज़ दिखता है अपनी ज़िन्दगी में | ऑफिस में टिफिन भी खोलता हूँ जब , तब करीने से रखी कटोरियाँ , फ्वाएल में लपेटे अचार और मिठाई में तुम्हारा ही एहसास होता है |

तुमने कई बार कहा है , "मेरे बारे में मत लिखा करिए " | पर मन करता है कभी कभी मन उड़ेलने के लिए | अतः फिर गुस्ताखी कर रहा हूँ | इस बार पूजा में तुम मुझे डाटना मत , जब मैं सामने देखने के बजाय तुम्हारे डिम्पल निहारता मिलूं | मेरा मानना है ,पूजा करते समय ध्यान की अवस्था होनी चाहिए बस, और मैं तो हमेशा तुम्हारे ध्यान की अवस्था में ही रहता हूँ , फिर दोष कैसा |

तुम्हारे जीवन में हमेशा सुगंध भर सकूँ ,बस इतना ही अनुरोध है तुम्हारे उस भगवान् से जिसे तुम ज्यादा मानती हो और मैं तनिक कम |

                                             "करवा चौथ व्रत की महिमा बनी रहे "




29 टिप्‍पणियां:

  1. क्या कहूँ अमित जी.....
    निवेदिता ठीक कहतीं हैं....मत लिखा करिये ...नज़र लग जायेगी.
    मेरा स्नेह और शुभकामनाएं आप दोनों को...
    अनु

    उत्तर देंहटाएं
  2. जे बात ... जय हो महाराज ... लगे रहिए ... ;-)

    हैप्पी करवा चौथ टू बोथ ऑफ यू !!

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. करवा का व्रत और एक विनती - ब्लॉग बुलेटिन पूरी ब्लॉग बुलेटिन टीम की ओर से आप को करवा चौथ की हार्दिक बधाइयाँ और शुभकामनायें !आज की ब्लॉग बुलेटिन मे आपकी पोस्ट को भी शामिल किया गया है ... सादर आभार !

      हटाएं
  3. वाह... दो दिन पहले ही निवेदिता जी को करवा चौथ का उपहार दे दिया आपने. आप दोनों को हमारी ढेर सारी शुभकामनाएं ...

    उत्तर देंहटाएं
  4. achha lagta hai jab do logo me itna pyar hota hai.....touch wood...happy karwachauth to u both....amit & nivedita ji..

    उत्तर देंहटाएं
  5. मन को छूती पोस्ट ...निवेदिता जी को हार्दिक शुभकामनायें

    उत्तर देंहटाएं
  6. मुझे नहीं पता मुझे क्या लिखना चहिये लेकिन पन्त जी की चार पंक्तियाँ आप दोनों को समर्पित करता हूँ.

    सुन्दर विश्वासों से ही
    बनता रे सुखमय जीवन
    ज्यों सहज -सहज सांसों से
    चलता उर का मृदु स्पंदन .

    मेरी असीम शुभकामनायें

    उत्तर देंहटाएं
  7. बहुत भावपूर्ण रचना ..
    आप दोनो को शुभकामनाएं !!

    उत्तर देंहटाएं
  8. बधाई हो। डिम्पल और निहारने वाली निगाहें सलामत रहें।

    उत्तर देंहटाएं
  9. कल 02/11/2012 को आपकी यह खूबसूरत पोस्ट http://nayi-purani-halchal.blogspot.in पर लिंक की जा रही हैं.आपके सुझावों का स्वागत है .
    धन्यवाद!

    उत्तर देंहटाएं
  10. असली व्रत तो मायका छोडकर आना ही था ... उपक्रम में ही तो स्नेहिल आस्था होती है

    उत्तर देंहटाएं
  11. वाह अमित बहुत सुंदर ..ये लेख प्यार की पाती भी है ...रिश्ते की गहराई को उकेरने वाली अभिव्यक्ति भी ...

    उत्तर देंहटाएं
  12. सुन्दर अहसासभरी पोस्ट...
    शुभकामनाएँ आप दोनों को...
    :-)

    उत्तर देंहटाएं
  13. बहुत खूब अमित जी, आपका प्यार देख दिल से आप दोनों के लिए दुआ निकाल रही है..

    उत्तर देंहटाएं
  14. ये प्यार, ये समर्पण, ये विश्वास ता-उम्र यूँ ही कायम रहे ……………जोडी सलामत रहे । करवाचौथ की शु्भकामनायें।

    उत्तर देंहटाएं
  15. आपसी विश्वास की डोर पक्की हो तो फिर सबकुछ अच्छा ही होता है जीवन में ....बहुत बढ़िया सामयिक प्रस्तुति

    उत्तर देंहटाएं
  16. You too good sir today i read all of your posts you are really a heart-touching writer best wishes from our side - Sumit chauhan Delhi

    उत्तर देंहटाएं
  17. बहुत अद्भुत अहसास...सुन्दर प्रस्तुति ..आपका ब्लॉग देखा मैने और नमन है आपको और बहुत ही सुन्दर शब्दों से सजाया गया है लिखते रहिये और कुछ अपने विचारो से हमें भी अवगत करवाते रहिये. मधुर भाव लिये भावुक करती रचना,,,,,,
    ...

    दीपावली की हार्दिक शुभकामनाये आपको और आपके समस्त पारिवारिक जनो को !

    मंगलमय हो आपको दीपो का त्यौहार
    जीवन में आती रहे पल पल नयी बहार
    ईश्वर से हम कर रहे हर पल यही पुकार
    लक्ष्मी की कृपा रहे भरा रहे घर द्वार..

    उत्तर देंहटाएं