रविवार, 10 जुलाई 2011

"बारिश हो तो ऐसी हो ..."

बारिश गर कुछ,

यूँ होती,

कि,

हमारे दरमियां,

सूखे पड़ते रिश्ते,

कुछ तो नम हो जाते ।

गाल पे ढुलके आँसू,

धुल जाते,

शायद,

सूखने से पहले ।

और कुछ धब्बे,

(हाँ,धब्बे ही तो हैं

जो उजले मन को

धूमिल सा कर चले हैं)

धुल जाते,

इस बारिश में,

तो अच्छा होता ।

थोड़ा वो भीगते,

थोड़ा मैं भीगता,

पर,

हो तो जाते,

गीले दोनों सिरे |

फ़िर,

भीगे भीगे,

मन से,

होती बातें,

भीगी भीगी,

जो कर जातीं,

हम दोनों को  तरबतर ।

काश ! ! ! ! !

28 टिप्‍पणियां:

  1. बारिश गर कुछ,

    यूँ होती,

    कि,

    हमारे दरमियां,

    सूखे पड़ते रिश्ते,

    कुछ तो नम हो जाते ।
    yaa khuda ek baarish aisi de

    उत्तर देंहटाएं
  2. सच में बारिश हो तो ऐसी ही हो... बहुत ही सुंदर रचना....

    उत्तर देंहटाएं
  3. बेहतरीन.

    कल 12/07/2011 को आपकी एक पोस्ट नयी पुरानी हलचल पर लिंक की जा रही हैं.आपके सुझावों का स्वागत है .
    धन्यवाद!

    उत्तर देंहटाएं
  4. बारिश आने में अभी समय है.... तब तक एक छोटा सा ब्रेक :)

    उत्तर देंहटाएं
  5. सच है सूखे रिश्तों को भी नमी चाहिए ... बहुत लाजवाब रचना है ...

    उत्तर देंहटाएं
  6. वाह कितना सुन्दर लिखा है आपने, बहुत सुन्दर जवाब नहीं इस रचना का........ बहुत खूबसूरत.......

    उत्तर देंहटाएं
  7. अस्वस्थता के कारण करीब 20 दिनों से ब्लॉगजगत से दूर था
    आप तक बहुत दिनों के बाद आ सका हूँ,

    उत्तर देंहटाएं
  8. हमारे दरमियां,

    सूखे पड़ते रिश्ते,

    कुछ तो नम हो जाते ।

    गाल पे ढुलके आँसू,

    धुल जाते,

    बहुत खूबसूरत ख्वाहिश ..सुन्दर रचना .

    उत्तर देंहटाएं
  9. बारिश के माध्यम से रिश्तों के भीगेपन की बात,वाह !!!! बिल्कुल ही नूतन कल्पना.

    उत्तर देंहटाएं
  10. इस बारिश से भरपूर रचना ने कुछ सुन्दर कल्पना से नए बिम्ब भी दिखाए...सुन्दर ख्वाहिश..........बधाई !

    उत्तर देंहटाएं
  11. बारिश गर कुछ,

    यूँ होती,

    कि,

    हमारे दरमियां,

    सूखे पड़ते रिश्ते,

    कुछ तो नम हो जाते
    बहुत सुन्दर..............

    उत्तर देंहटाएं
  12. होती बातें,

    भीगी भीगी,

    जो कर जातीं,

    हम दोनों को तरबतर ।

    काश ! ! ! ! !

    वैसे बारिश में साथ साथ भीगने पर मन की कडुवाहट को बारिश का पानी बहा ले जाता है और मन फिर से शांत और प्यार से लबरेज़ हो जाता है.

    उत्तर देंहटाएं
  13. amit ji
    sach me bheegi bheegi barish apne sang bahut si baate jod jaati hai -----
    kuch bhigi si .kuchh khatti -meethi si
    kuch rishto me padi dararo par
    malham ka kaam hai kar jaati
    jo barish kuchh -kuchh yun bhi hoti----
    bahut hi badhiya lagi barish par aapki bhigi -bhigi- si prastuti
    bahut bahut badhai
    poonam

    उत्तर देंहटाएं
  14. होती बातें,

    भीगी भीगी,

    जो कर जातीं,

    हम दोनों को तरबतर ।

    very touching creation ! You made me emotional.

    .

    उत्तर देंहटाएं
  15. बहुत सुन्दर भीगी-भीगी-सी भावाभिव्यक्ति....

    उत्तर देंहटाएं
  16. बहुत ही सुंदर,
    लिकं हैhttp://sarapyar.blogspot.com/
    अगर आपको love everbody का यह प्रयास पसंद आया हो, तो कृपया फॉलोअर बन कर हमारा उत्साह अवश्य बढ़ाएँ।

    उत्तर देंहटाएं