शनिवार, 6 अगस्त 2011

"आहट".....आँसुओं की...

मेरा बावरा मन,
बिना पूछे ,
अक्सर, 
मुझसे, 
निमंत्रण देता, 
रहता है,
मेरे ही आंसुओं को,
वह भी, 
मेरी ही आँखों में, 
कितना समझाया, 
घर छोटा है, 
ज्यादा मेहमान, 
ना बुलाया करो,
अभी पिछली बार की,
ही तो बात है,
याद में, 
उनकी, 
आये आंसू, 
अभी भी, 
वहीँ ठहरे हुए हैं,
अब,
नई कतार,
कहाँ बिठाऊँ,  
बार बार,
यूँ बुलाते हो, 
मेहमान को, 
कहीं ऐसा ना हो, 
जगह ना पायें वे,
और, 
आना ही छोड़ दें, 
और फिर,
तुम तरस, 
जाओ,
मेहमान नवाजी को, 
आँखें भी सूख जाएँ, 
ताउम्र के लिए, 
पर मन तो गुम सा है,
उनकी ही याद में, 
ये क्या,
मै,
फिर सुन रहा हूँ, 
आहट......आंसुओं की, 
चलो फिर बुहार ही लूँ, 
पलकों से आँखों को, 
और स्वागत करूँ, 
आंसुओं का |  

30 टिप्‍पणियां:

  1. मुसीबतो का स्वागत करना फिर आगे बढ़ना ही जीवन है...

    उत्तर देंहटाएं
  2. स्वागत करूँ,
    आंसुओं का | खुबसूरत अभिवयक्ति....

    उत्तर देंहटाएं
  3. वाह्…………आँसुओ का स्वागत …………गज़ब्…………॥

    उत्तर देंहटाएं
  4. बहुत अच्छा लिखा है आपने धन्यवाद

    उत्तर देंहटाएं
  5. अतिथि देवो: भव: :............चाहे वो अपने आंसू ही क्यों ना हो

    उत्तर देंहटाएं
  6. दुख में कोई जब साथ नहीं देता है, आँसू देते हैं।

    उत्तर देंहटाएं
  7. आंसू दिल के सच्चे साथी.....
    खूबसूरत अभिव्यक्ति...

    उत्तर देंहटाएं
  8. मै,
    फिर सुन रहा हूँ,
    आहट......आंसुओं की,
    चलो फिर बुहार ही लूँ,
    पलकों से आँखों को,
    और स्वागत करूँ,
    आंसुओं का |


    वाह क्या स्वागत है .

    उत्तर देंहटाएं
  9. मै,
    फिर सुन रहा हूँ,
    आहट......आंसुओं की,
    चलो फिर बुहार ही लूँ,
    पलकों से आँखों को,
    और स्वागत करूँ,
    आंसुओं का |

    आँसुओं से आत्मीयता का यह रिश्ता बहुत पसंद आया ! बहुत भावपूर्ण और सुन्दर अभिव्यक्ति है ! बधाई !

    उत्तर देंहटाएं
  10. बहुत सुंदर.... आंसू ही अपने होते हैं.... ख़ुशी में भी गम में भी...

    उत्तर देंहटाएं
  11. ............और स्वागत करूँ,
    आंसुओं का |
    बेहतरीन भाव,आभार.

    उत्तर देंहटाएं
  12. आँखें भी सूख जाएँ,
    ताउम्र के लिए,
    पर मन तो गुम सा है,
    उनकी ही याद में,
    ये क्या,
    मै,
    फिर सुन रहा हूँ,
    आहट......आंसुओं की,


    अंतस को छूती बेहतरीन रचना....

    उत्तर देंहटाएं
  13. बहुत सुंदर रचना ! लाजवाब प्रस्तुती!

    आपके पास दोस्तो का ख़ज़ाना है,
    पर ये दोस्त आपका पुराना है,
    इस दोस्त को भुला ना देना कभी,
    क्यू की ये दोस्त आपकी दोस्ती का दीवाना है

    ⁀‵⁀) ✫ ✫ ✫.
    `⋎´✫¸.•°*”˜˜”*°•✫
    ..✫¸.•°*”˜˜”*°•.✫
    ☻/ღ˚ •。* ˚ ˚✰˚ ˛★* 。 ღ˛° 。* °♥ ˚ • ★ *˚ .ღ 。.................
    /▌*˛˚ღ •˚HAPPY FRIENDSHIP DAY MY FRENDS ˚ ✰* ★
    / .. ˚. ★ ˛ ˚ ✰。˚ ˚ღ。* ˛˚ 。✰˚* ˚ ★ღ

    !!मित्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाये!!

    फ्रेंडशिप डे स्पेशल पोस्ट पर आपका स्वागत है!
    मित्रता एक वरदान

    शुभकामनायें

    उत्तर देंहटाएं
  14. amit ji
    ek bahut hi sashakt avam bhavpravan rachna bahut jabrdast likha hai aapne .
    bahut bahut badhai
    poonam

    उत्तर देंहटाएं
  15. कल 09/08/2011 को आपकी एक पोस्ट नयी पुरानी हलचल पर लिंक की जा रही हैं.आपके सुझावों का स्वागत है .
    धन्यवाद!

    उत्तर देंहटाएं
  16. आपकी इस उत्कृष्ट प्रविष्टी की चर्चा कल मंगलवार के चर्चा मंच पर भी की गई है!
    यदि किसी रचनाधर्मी की पोस्ट या उसके लिंक की चर्चा कहीं पर की जा रही होती है, तो उस पत्रिका के व्यवस्थापक का यह कर्तव्य होता है कि वो उसको इस बारे में सूचित कर दे। आपको यह सूचना केवल इसी उद्देश्य से दी जा रही है! अधिक से अधिक लोग आपके ब्लॉग पर पहुँचेंगे तो
    चर्चा मंच का भी प्रयास सफल होगा।

    उत्तर देंहटाएं
  17. भावपूर्ण प्रस्तुति
    सब कुछ बड़ी सहजता से कह दिया आपने....

    उत्तर देंहटाएं
  18. चंचल मन और आंसुओं को निमंत्रण ....?

    अमित साहब चंचल मन तो मुस्कानों को निमंत्रण देता है ......

    :))

    उत्तर देंहटाएं
  19. हीर साहिबा , आपकी बात सच है ,चंचल मन तो मुस्कुराता रहता है ,अतः "चंचल" को मैने "बावरा" कर दिया ।

    मशवरे के लिये बहुत बहुत शुक्रिया....

    उत्तर देंहटाएं
  20. और फिर,
    तुम तरस,
    जाओ,
    मेहमान नवाजी को,
    आँखें भी सूख जाएँ,
    ताउम्र के लिए, ....kaviyon ka dil to ashkon ka dariya hai..ye kahan sukhega..is shaandar kavita ke liye hardik badhayee.

    उत्तर देंहटाएं
  21. आँसुओ का स्वागत यह ख्याल आया कैसे ? जबरदस्त मान गए ..

    उत्तर देंहटाएं
  22. सुन्दर रचना, बहुत सार्थक प्रस्तुति
    , स्वाधीनता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं
    मेरे ब्लॉग पर भी पधारने का कष्ट करें .

    उत्तर देंहटाएं