मंगलवार, 16 फ़रवरी 2021

शेषफल प्रमेय

 समोसे खाओ तो चटनी बच जाती है,मूंगफली खाओ तो नमक बचा रह जाता है। डोसा , इडली खाओ तो साम्भर बचा रह जाता है। पिज़ा खाओ तो पिचकू  से सैशे में  सॉस बची रह जाती है।


सोकर उठो तो ख्वाब शेष रह जाते हैं, मंज़िल तक पहुँचों तो रास्ते शेष रह जाते हैं, निगाहें मिल जायें तो बातें शेष  रह जाती है।


"जो शेष रह जाता है वही शाश्वत है।"

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें